BHAAV SAMADHI VICHAAR SAMADHI KAKA BHAJANS

BHAAV SAMADHI VICHAAR SAMADHI - Hindi BHAJAN

Hymn No. 6654 | Date: 01-Mar-1997
   Text Size Increase Font Decrease Font

नज़रों से नज़र तो तेरी, मिली जहाँ नज़र तो मेरी, मैं होश खो बैठा, मदहोश बन गया

  No Audio

Najro Se Najar To Teri, Mili Jaha Najar To Meri, Mein Hosh Kho Baitha, Madhosh Ban Gaya

પ્રાર્થના, ધ્યાન, અરજી, વિનંતી (Prayer, Meditation, Request)


1997-03-01 1997-03-01 https://www.kakabhajans.org/bhajan/default.aspx?id=16641 नज़रों से नज़र तो तेरी, मिली जहाँ नज़र तो मेरी, मैं होश खो बैठा, मदहोश बन गया नज़रों से नज़र तो तेरी, मिली जहाँ नज़र तो मेरी, मैं होश खो बैठा, मदहोश बन गया,
तेज नज़रों ने तो तेरा, निशाना दिल को बना दिया, सब होश तो मेरा भुला दिया।
जी रहा था ज़िंदगी जिस तरह तो मेरी, उसमें बदलाव वह तो ला गया,
जीवन में जो खुशियाँ खो बैठा, खुशियाँ जीवन में तेरी नज़रों ने भर दिया।
जो राह थी, थी मेरे लिये तो नयी, जीवन में मुझे उस राह पर चला दिया,
ना रहा था मैं मुझमें, खो गया था मैं तो तुझ में, सब-कुछ भुला दिया।
नज़रों में से मेरे सब कुछ हट गया, तेरी तस्वीर बिना ना कुछ रहने दिया,
तेरी ऩजर बन गई ज़िंदगी तो मेरी, तेरी नज़र बिना जीना मुश्किल बना दिया।
यह तो है मेरे दिल का हाल-ए-बयाँ, अब नज़र तेरी मुझ से हटा ना लेना,
नज़र तो तेरी मिलाते रहना, ना मेरी नज़रों से नज़र तेरी तू हटा लेना।
Hindi Bhajan no. 6654 by Satguru Devendra Ghia - Kaka
नज़रों से नज़र तो तेरी, मिली जहाँ नज़र तो मेरी, मैं होश खो बैठा, मदहोश बन गया,
तेज नज़रों ने तो तेरा, निशाना दिल को बना दिया, सब होश तो मेरा भुला दिया।
जी रहा था ज़िंदगी जिस तरह तो मेरी, उसमें बदलाव वह तो ला गया,
जीवन में जो खुशियाँ खो बैठा, खुशियाँ जीवन में तेरी नज़रों ने भर दिया।
जो राह थी, थी मेरे लिये तो नयी, जीवन में मुझे उस राह पर चला दिया,
ना रहा था मैं मुझमें, खो गया था मैं तो तुझ में, सब-कुछ भुला दिया।
नज़रों में से मेरे सब कुछ हट गया, तेरी तस्वीर बिना ना कुछ रहने दिया,
तेरी ऩजर बन गई ज़िंदगी तो मेरी, तेरी नज़र बिना जीना मुश्किल बना दिया।
यह तो है मेरे दिल का हाल-ए-बयाँ, अब नज़र तेरी मुझ से हटा ना लेना,
नज़र तो तेरी मिलाते रहना, ना मेरी नज़रों से नज़र तेरी तू हटा लेना।
सतगुरू देवेंद्र घिया (काका)

Lyrics in English
naja़rōṁ sē naja़ra tō tērī, milī jahām̐ naja़ra tō mērī, maiṁ hōśa khō baiṭhā, madahōśa bana gayā,
tēja naja़rōṁ nē tō tērā, niśānā dila kō banā diyā, saba hōśa tō mērā bhulā diyā।
jī rahā thā ja़iṁdagī jisa taraha tō mērī, usamēṁ badalāva vaha tō lā gayā,
jīvana mēṁ jō khuśiyām̐ khō baiṭhā, khuśiyām̐ jīvana mēṁ tērī naja़rōṁ nē bhara diyā।
jō rāha thī, thī mērē liyē tō nayī, jīvana mēṁ mujhē usa rāha para calā diyā,
nā rahā thā maiṁ mujhamēṁ, khō gayā thā maiṁ tō tujha mēṁ, saba-kucha bhulā diyā।
naja़rōṁ mēṁ sē mērē saba kucha haṭa gayā, tērī tasvīra binā nā kucha rahanē diyā,
tērī na़jara bana gaī ja़iṁdagī tō mērī, tērī naja़ra binā jīnā muśkila banā diyā।
yaha tō hai mērē dila kā hāla-ē-bayām̐, aba naja़ra tērī mujha sē haṭā nā lēnā,
naja़ra tō tērī milātē rahanā, nā mērī naja़rōṁ sē naja़ra tērī tū haṭā lēnā।




First...66516652665366546655...Last
Publications
He has written about 10,000 hymns which cover various aspects of spirituality, such as devotion, inner knowledge, truth, meditation, right action and right living. Most of the Bhajans are in Gujarati, but there is also a treasure trove of Bhajans in English, Hindi and Marathi languages.
Pediatric Oncall
Pediatric Oncall
Pediatric Oncall
Pediatric Oncall
Pediatric Oncall